Backlink क्या हैं? New Blog ke liye Backlink kaise banaye - Dailybhaskar

Backlink kya hain एवं Backlink kaise banaye इसको लेकर हर उस शख्स को जानने की उत्सुकता होती हैं जोकि ब्लॉगिंग के कार्य क्षेत्र में नया होता हैं और वह पहली बार ब्लॉगिंग कर रहा होता हो। ऐसे ही नए bloggers से उनकी जुड़ी इस समस्या पर आज हम विस्तार से जानकारी देने का प्रयास  करेंगे। 

new-blog-ke-liye-backlink-kaise-banaye

नए bloggers अक्सर शीघ्रतवश अपने ब्लॉग या वेबसाइट को जल्द से जल्द फेमस करने के चक्कर में कुछ ऐसा कार्य कर जाते हैं जिनमें उनकी मेहनत तो पूरी रहती हैं पर उसका परिणाम उन्हें शून्य के रूप में मिलता हैं और ऐसा अधिकतर नए bloggers के साथ देखा गया है। 


लेकिन अपने blog page को कम मेहनत में successful बनाने की जानकारी गौण होने के कारण उसमें सफल नहीं हो पाते हैं। वेबसाइट या ब्लॉग को फेमस बनाने के लिए जो तरीका है वह है SEO यानी के Search Engine Optimization, जिसका उपयोग करके आप अपनी ब्लॉग को जल्दी पॉपुलर बना सकते हैं। 


जब जब SEO की चर्चा की जाती हैं तो उससे संबंधित जो महत्वपूर्ण चीज का लोगों के मन में ध्यान आता है वह हैं Backlink, जो कोई भी ब्लॉगर्स ब्लॉगिंग के क्षेत्र में प्रवीण हो चुका है वह backlink की खूबियों से अवगत होगा। समस्या आती हैं तो नए bloggers के लिए जो इससे पूर्णतः अपरिचित है।


Backlink क्या हैं? What is Backlink?


Backlink एक ऐसी कड़ी हैं जोकि किसी दूसरे ब्लॉग या वेबसाइट से आपके ब्लॉग या वेबसाइट तक जाने का मार्ग प्रशस्त करती हैं। अर्थात् जब किसी एक वेबसाइट का लिंक किसी दूसरी वेबसाइट या ब्लॉग के link से जुड़ा हुआ होता हैं तो उसे हम आम बोलचाल की भाषा में Backlink बोलते हैं। 


इस चीज को अब हम आपको सरल शब्दों में समझाने का पूरा प्रयास करेंगे जैसे मान लीजिए कि कोई एक उत्कृष्ठ लेख उपलब्ध कराने वाली वेबसाइट हैं जिस पर पाठकों की संख्या और आने वाले नए visitors की संख्या काफी अच्छी और अधिक हैं तो ऐसे में जब आपकी वेबसाइट या ब्लॉग का लिंक उस पेज पर दिखाई देगा तो उस पेज के पढ़ने वाले लोग और आने वाले नए लोग आपकी वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करके आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर भी आ जाएंगे। 


जिससे कि आपके ब्लॉग पेज या वेबसाइट पर आगंतुकों की संख्या धीरे धीरे बढ़ने लगेगी और देखते ही देखते आपका web page search engine में अच्छी तरीके से rank करने लगेगा। आपकी वेबसाइट में हो रहे इस नए बदलाव को आप खुद महसूस करेंगे। 


आशा करते हैं कि Backlink क्या होता हैं आप इसके बारे में समझ गए होंगे अब बारी है बैकलिंक से जुड़े हुए कुछ मसलों के बारे में क्योंकि यदि आप इसके बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त कर लेते हैं तो निश्चित ही आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट में बेहतर बैकलिंक कैसे बनाएं यह भी सीख जायेंगे।


(१) Low Quality Links


यह वे लिंक होती है जो किसी गलत वेब पेज के माध्यम से आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर आ रही होती है गलत साइट से हमारा मतलब है porn websites या फिर spam website से। ऐसी लिंक आपके ब्लॉग या वेबसाइट को बहुत ही ज्यादा नुकसान पहुंचा सकती हैं, इसलिए अपने वेब पेज को सुरक्षित रखने के लिए प्रयास करिए कि जब भी आप backlink बनाए तो उसमें High Quality Links का पूरा उपयोग हो अर्थात आपकी ब्लॉग या वेबसाइट किसी हाई क्वालिटी लिंक वाली वेबसाइट से जुड़ी हुई हो।


(२) High Quality Links


यह लिंक वह होती है जोकि काफी हाई क्वालिटी वेबसाइट से आती हैं। यहां पर हमारा high quality links से मतलब है वह वेब पेज जोकि किसी एक विशेष niche पर काम कर रही होती है और उसकी लोकप्रियता पाठकों के बीच तो बहुत होती ही हैं पर साथ ही साथ उसके द्वारा प्रदान की गई जानकारी  गूगल के सर्च engine में भी मायने रखती हैं। ऐसी वेब पेज से बनाई हुई backlink आपके ब्लॉग या वेबसाइट से जुड़ी हुई है तो इससे आपको ही जल्दी फायदा देखने को मिलेगा। इसकी वजह से आपके ब्लॉग के आर्टिकल्स को google search engine में शीघ्र high rank होने का एक माध्यम मिल जाएगा।


(३) Internal Links 


ऐसी लिंक जोकि किसी एक वेबसाइट या ब्लॉग के किसी एक पेज से लेकर उसी वेबसाइट या ब्लॉग के दूसरे पेज पर आपको जोड़ने का मार्ग बनाती हैं तो ऐसी लिंक्स internal links कहलाती हैं। सरल शब्दों में समझें इसे, मान लीजिए आपकी वेबसाइट या ब्लॉग का कोई भी एक आर्टिकल google search engine में अच्छी तरह से rank कर रहा हो और आप अपनी दूसरे आर्टिकल को भी rank करवाना चाहते हो तो इसके लिए आपको पहले वाली रैंक कर रही आर्टिकल को जिस दूसरी आर्टिकल को rank करवाना होता है उसे पहली वाली से लिंक कर दीजिए। 


(४) Link Juice


जब किसी एक वेबसाइट की लिंक आपके ब्लॉग या वेबसाइट के किसी भी एक articles के साथ या फिर आपके वेब पेज के होमपेज से जुड़ी हुई होती है तो वह जो लिंक फ्लो होकर आपके ब्लॉग तक पहुंचती है उसे ही दो वेब पेज में जुड़ी हुई कड़ियों के संपर्क मार्ग को हम link juice बोलते हैं।


Types Of Backlink - बैकलिंक कितने प्रकार के होते हैं?


Backlink क्या होती है इसके बारे में विस्तार से जानने के बाद अब चलिए जान लेते हैं कि बैकलिंक कितने प्रकार की होती है : यह 2 प्रकार की होती है, पहली dofollow backlink और दूसरी nofollow backlink.


Dofollow backlink क्या हैं?


जैसा कि हमने link juice के संदर्भ में पहले से ही आपको ऊपर जानकारी दे दी है कि यह क्या होता तो उसी लिंक जूस को एक वेबसाइट से दूसरे वेब पेज में आने जाने के अपने मार्ग को प्रशस्त करने के लिए जो कड़ी का निर्माण करता है उसे ही हम dofollow backlink कहते हैं। इसके उपयोग से आप अपनी ब्लॉग या वेबसाइट को google search engine में अच्छी तरीके से rank करवा सकते हैं। 


Nofollow backlink क्या हैं?


बैकलिंक की इस प्रक्रिया में कोई भी एक वेब पेज किसी दूसरे वेब पेज तक link juice को आने जाने का मार्ग नहीं प्रदान करता हैं। इसके साथ ही साथ इसकी google search engine में कोई महत्वता नहीं रह जाती हैं।इसकी वजह से आपका ब्लॉग या वेबसाइट rank करने में कोई मदद नहीं करता हैं। हालांकि इस लिंक का यह फायदा है कि यदि आपकी वेबसाइट या ब्लॉग में किसी और की वेबसाइट का लिंक लगा हुआ हैं जिसमें उस दूसरी वेबसाइट के आपको किसी कंटेंट मटेरियल से आपको दिक्कत हो या वह वेबसाइट आपको ठीक न लग रही हो तो ऐसे में आप उस लिंक के साथ Nofollow attribute जोड़ सकते हैं, इससे आपके ब्लॉग या वेबसाइट का लिंक उस वेबसाइट तक नहीं जा पाएगा। 


New Blog/Website ke liye Backlink kaise banaye


Blogging के क्षेत्र में काम करने वाले नए लोगों के लिए यह काफी उलझन पैदा करने वाला सवाल होता है कि वह अपनी नई ब्लॉग या वेबसाइट के लिए बैकलिंक कैसे बनाए ताकि उनका वेब पेज शीघ्र अति शीघ्र लोगों के बीच अपनी पहुंच बनाने लग जाए और उसके ब्लॉग पर visitors की संख्या लगातार बढ़ती रहे। 


बैकलिंक बनाने के लिए कोई निश्चित सीमा नहीं निर्धारित की गई है, इसलिए आप जितने चाहे उतने backlink बना सकते हैं। परन्तु आपको यह सभी backlink किसी न किसी क्वालिटी वेबसाइट से ही बनाने होंगे तभी इसका लाभ आपको देखने को मिलेगा नहीं तो फिर आप जितने भी चाहे उतने backlinks बना लें आपको उसका कोई लाभ नहीं मिलेगा।


1. बेहतर गुणवत्ता वाले क्वालिटी कॉन्टेंट को अपनी ब्लॉग या वेबसाइट पर लिखें जिससे आपके वेबपेज पर उसे पढ़ने के लिए पाठकों की संख्या बढ़े और बदले में उन्हें उनके प्रश्नों का हल मिले। जिससे वह आपकी वेबसाइट या ब्लॉग पर बार बार आएंगे।


2. किसी भी high quality content वाली वेबसाइट पर जाकर आप उस पर कमेंट करें यदि किसी कमेंट में किसी ने अपने प्रश्न का हल जानने के लिए उससे सवाल पूछा है तो प्रयास करें कि उसके प्रश्नों का हल आप अपनी ब्लॉग या वेबसाइट के आर्टिकल के द्वारा उसकी लिंक के माध्यम से उसकी समस्या का निवारण करें क्योंकि हो सकता हो जो समस्या आज उसकी हो कल को वह किसी और की भी होगी जिससे आपकी वेबसाइट पर पर डायरेक्ट जाएगा और आपके अच्छे content से प्रभावित होकर वह शायद आपका रेगुलर पाठक भी बन जाएगा। इससे आपकी वेबसाइट भी जल्दी पॉपुलर होना शुरू हो जाएगी।


3. अपनी नई ब्लॉग या वेबसाइट को जल्दी गूगल में rank करवाने के लिए और उसे लोगों के बीच काफी लोकप्रिय बनाने के लिए आप guest blogging का सहारा ले सकते हैं किसी भी हाई क्वालिटी वेबसाइट में जिसमें visitors की संख्या अच्छी हो और उसका google search engine में महत्वपूर्ण स्थान हो ऐसी किसी वेबसाइट को अपने हाई क्वालिटी कॉन्टेंट अपनी वेबसाइट में पब्लिश करवाने के लिए आग्रह करे यदि ऐसा हो जाता है तो आपकी वेबसाइट निश्चित ही जल्दी लोकप्रिय होगी और उस पर काफी visitors भी आपको देखने को मिलेंगे।



तो अंत में आशा करते हैं कि आपको यह समझ आ गया होगा की Backlink क्या होती है, यह कितने प्रकार से काम कर सकती हैं एवं नए ब्लॉग या वेबसाइट के लिए कैसे बैकलिंक बनाई जाती हैं यदि आपको किसी भी प्रकार की प्रश्नों के समस्या का समाधान नहीं मिल पा रहा अभी तक तो comment box में अपनी समस्या बताएं हम उसका हल अपनी आर्टिकल के माध्यम से अवश्य करेंगें। अपनी मेहनत को किसी अच्छी चीजों पर लगाएं ताकि उसका फल आपको भविष्य में जरूर मिले। 

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने